टी-20 मैच तीन घंटों में निपट जाता है, इसे ओलंपिक में शामिल करना चाहिए: लारा

Publish Date : 07 / 09 / 2018

एजेंसी&न्यूयॉर्क
वेस्टइंडीज के महान बल्लेबाज ब्रायन लारा ने क्रिकेट को ओलंपिक खेलों में शामिल करने की वकालत की है। टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाजों की सूची में सातवें नंबर पर मौजूद लारा ने क्रिकेट के सबसे छोटे प्रारूप टी-20 को ओलंपिक खेलों में शामिल करने की वकालत की है। बांये हाथ के महान बल्लेबाज लारा ने वेस्टइंडीज की ओर से 299 एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं लेकिन टी-20 क्रिकेट के अंतरराष्ट्रीय मैच शुरू होने से पहले ही लारा ने संन्यास ले लिया था। 
लारा ने कहा, ''अपने दूसरे टेस्ट मैच में खेलने से पहले मेरे पास करीब 25 एकदिवसीय मैच खेलने का अनुभव था जिससे मुझे खेल के आक्रामक पहलू को समझने में काफी आसानी हुयी। यदि मुझे आज के दौर में टी-20 क्रिकेट खेलना होता तो इससे मेरी टेस्ट खेलने की क्षमता पर कोई असर नहीं पड़ता बल्कि मेरी टेस्ट की स्कोरिंग स्वाभाविक रूप से तेज रहती।'' उल्लेखनीय है कि 1900 में पेरिस में हुए ओलंपिक खेलों में अंतिम बार क्रिकेट को शामिल किया गया था जिसमें ग्रेट ब्रिटेन ने स्वर्ण पदक जीता था।    लारा ने कहा, ''टी-20 का प्रारूप केवल तीन घंटों में निपट जाता है इसलिए मुझे लगता है कि इसे ओलंपिक खेलों में क्यों नहीं शामिल किया जा सकता। गोल्फ को ओलंपिक में देखना अच्छा लगा लेकिन अब क्रिकेट को ओलंपिक में शामिल करना चाहिए।'' टेस्ट क्रिकेट में 400 रन का सर्वाधिक व्यक्तिगत स्कोर बनाने वाले लारा ने आईसीसी के एकदिवसीय और टी-20 मैचों वाले विश्वकप में अधिक टीमों को खेलने का मौका देने की भी बात कही।   

Like & Share

अन्य खबरे

Epaper

Epaper

लाइव पोल

2019 में कौन होंगे प्रधानमंत्री?

नरेन्द्र मोदी
राहुल गांधी
अर्विन्द केजरिवाल