भारतीय सेना के पराक्रम से खौफजदा है पाकिस्तान, विदेश मंत्री बोले- भारत फिर कर सकता है सर्जिकल स्ट्राइक

Publish Date : 18 / 12 / 2020

एजेंसी।,नई दिल्ली। |  आतंक का प्रयाय बन चुके पाकिस्तान पर भारतीय सेना के पराक्रम का खौफ इस कदर छाया हुआ है कि उसे हर वक्त सर्जिकल स्ट्राइक का डर सताता है। शुक्रवार को अबु धाबी में पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा, “खुफिया स्रोतों से मुझे पा चला है कि भारत पाकिस्तान के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक की प्लानिंग कर रहा है। यह एक गंभीर बात है।''

पाकिस्तानी विदेश मंत्री ने आगे कहा, 'मुझे इस बात की भी जानकारी है कि भारत ने इसके लिए अपने महत्वपूर्ण सहयोगियों से इसके लिए अनुमोदन लेने की कोशिश की है, जिन्हें वे अपना साझेदार मानते हैं। भारत में बढ़ते गंभीर आंतरिक मुद्दों से ध्यान हटाने के लिए  इस तरह की योजना बनाई जा रही है।“

कुरैशी 17 और 18 दिसंबर को यूएई की दो दिवसीय यात्रा पर हैं। गुरुवार को कुरैशी ने संयुक्त अरब अमीरात के वरिष्ठ अधिकारियों और प्रवासी पाकिस्तानियों से मुलाकात की। कुरैशी ने कहा कि भारत पाकिस्तान पर ध्यान केंद्रित कर अपने विभाजित राष्ट्र का एकीकरण करना चाहता है।

आपको बता दें कि किसानों का यह आंदोलन भले ही राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में हो रही है, लेकिन इसने इस्लामाबाद में बैठे पाकिस्तान के हुक्मरानों के माथे पर चिंता और डर की लकीरें खींच दी हैं। पाकिस्तान को डर है कि भारत सरकार किसान आंदोलन से लोगों का ध्यान भटकाने के लिए पाकिस्तान पर सर्जिकल स्ट्राइक कर सकती है। इससे पहले भी पाकिस्तान इसको लेकर चिंता जता चुका है।

पाकिस्तान की मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पाकिस्तान ने अपनी सेना को अलर्ट पर रखा है। वहां की अंग्रेजी अखबार 'डॉन' के मुताबिक, एक अधिकारी ने कहा कि भारत द्वारा कई आंतरिक मुद्दों से दुनिया का ध्यान हटाने के लिए कई तरह की योजनाएं बनाई जा रही हैं, जिसमें चल रहे किसान आंदोलन भी शामिल है। उन्होंने कहा "भारत किसी भी समय आंतरिक समस्याओं से ध्यान हटाने के लिए पुलवामा जैसा नाटक दोहरा सकता है और एलओसी और वर्किंग बाउंड्री के साथ कार्रवाई की योजना बना रहा था।"

इससे पहले जियो न्यूज ने विश्वसनीय सूत्रों का हवाला देकर कहा है कि भारत लाइन ऑफ कंट्रोल (LOC) और भारत-पाकिस्तान सीमा पर हमले की तैयारी कर रहा है। हमले की संभावना को देखते हुए पाकिस्तानी सेना को अलर्ट पर रखा गया है। जियो को सूत्रों ने बताया कि भारत सीमा पर ऐक्शन ले सकता है या सर्जिकल स्ट्राइक कर सकता है जिससे आंतरिक समस्याओं से ध्यान हटा सके। 

गौरतलब है कि 2016 में भारत ने उड़ी आतंकवादी हमले के बाद पीओके में जाकर आतंकी ठिकानों को ध्वस्त किया था। इस सर्जिकल स्ट्राइक में कई आतंकी मारे गए थे और लॉन्च पैड्स को तबाह कर दिया गया था। इसी तरह पुलवामा हमले के बाद भारत ने 26 फरवरी 2019 को एयरस्ट्राइक के जरिए बालाकोट में आतंकी ठिकाने पर हमला किया था। दोनों ही मौकों पर पाकिस्तान की सेना को भनक तक नहीं लगी।

 

Like & Share

अन्य खबरे

Epaper

Epaper

लाइव पोल

2019 में कौन होंगे प्रधानमंत्री?

नरेन्द्र मोदी
राहुल गांधी
अर्विन्द केजरिवाल