स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के अनुरोध पर देश की 1.4 लाख कंपनियों ने दी वर्क फ्राम होम की सुविधा

Publish Date : 27 / 03 / 2020

नई दिल्‍ली । कोरोना वायरस को लेकर शुक्रवार को स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय और गृह मंत्रालय की प्रेस कांफ्रेंस करते हुए  संयुक्‍त सचिव लव अग्रवाल ने  कहा कि अब तक कोरोना के 724 मामले सामने आए हैं। अब तक 17 लोगों की मौत हुई है। पिछले 24 घंटे में 75 पॉजीटिव केस सामने आए हैं और 4 लोगों की मोत हुई है। 

उन्‍होंने कहा कि हमने 10,000 वेंटिलेटर देने के लिए एक पीएसयू को आदेश दिया है। भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड (बीईएल) ने भी 1-2 महीनों में 30,000 अतिरिक्त वेंटिलेटर खरीदने का अनुरोध किया है। लव अग्रवाल ने कहा कि हमारे अनुरोध पर करीब 1.4 लाख कंपनियों के कर्मचारी घर से काम कर रहे हैं।

उन्‍होंने कहा कि हमने राष्ट्रीय टेलीमेडिसिन के लिए दिशानिर्देश जारी किए हैं। इससे उस प्रक्रिया को सुगम बनाया जाता है, जिसमें डॉक्टर अपने घरों पर बैठे मरीजों को सेवाएं दे सकते हैं। हम नागरिकों से अनुरोध करते हैं कि वे इसका लाभ उठाएं और इसके जरिए डॉक्‍टरों का  उपयोग किया जा सकता है। 

गृह मंत्रालय की संयुक्‍त सचिव पुण्‍य सलिला श्रीवास्‍तव ने कहा कि राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों से प्रवासी मजदूरों के लिए भोजन, पानी और स्वच्छता की व्यवस्था करने का अनुरोध किया गया है। होटल और किराए के घरों में सभी प्रकार की कोरोना वायरस को लेकर सावधानियां बरतते हुए खुले में काम करना चाहिए। 

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद के आर गंगा केतकर ने कहा है कि हमें विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा शुरू की जा रही एकजुटता परीक्षण में जल्द ही अपनी भागीदारी शुरू करने की संभावना है। पहले हमने ऐसा नहीं किया क्योंकि हमारी संख्या इतनी कम थी कि हमारा योगदान बहुत सूक्ष्‍म दिखता था।  

Like & Share

Epaper

Epaper

लाइव पोल

2019 में कौन होंगे प्रधानमंत्री?

नरेन्द्र मोदी
राहुल गांधी
अर्विन्द केजरिवाल